Today Best Shayari

Category Zidd Shayari

Bholi Si Ada Koi Fir Ishq Ki Zidd Par Hai | Today Shayari

भोली सी अदा कोई फिर इश्क की जिद पर है, फिर आग का दरिया है और डूब के जाना है. Bholi Si Ada Koi Fir Ishq Ki Zidd Par Hai, Fir Aag Ka Dariya Hai Aur Doob Ke Jana Hai.

Tumhari Aadat Hai Dil Dukhane Ki Shayari

तुम्हारी आदत है दिल दुखाने की, और हमारी भी ज़िद्द है तुम्हे अपना बनाने की. Tumhari Aadat Hai Dil Dukhane Ki, Aur Hamari Bhi Zidd Hai Tumhe Apana Banane Ki.

Mujhe Bhi Apani Zidd Bana Lo

सुना है तुम जिद्दी बहुत हो, मुझे भी अपनी जिद्द बना लो. Suna Hai Tum Ziddi Bahut Ho, Mujhe Bhi Apani Zidd Bana Lo.

© 2021 Today Shayari — Powered by WordPress

Theme by Anders NorenUp ↑