Today Best Shayari

Category Ishq Shayari

Ishq Shayari » में पढ़ते है इश्क पर बने Ishq Shayari Urdu, इश्क शायरी के कलेक्शन में जो आपको पसंद आएगा. मजे लेते है अपने इस पोस्ट का.

Bholi Si Ada Koi Fir Ishq Ki Zidd Par Hai | Today Shayari

भोली सी अदा कोई फिर इश्क की जिद पर है, फिर आग का दरिया है और डूब के जाना है. Bholi Si Ada Koi Fir Ishq Ki Zidd Par Hai, Fir Aag Ka Dariya Hai Aur Doob Ke Jana Hai.

Dil Me Dard Hai Shayari | Today Shayari

दिल में दर्द है आँखों में बेकरारी है, हमें लगी इश्क की अजीब बिमारी है. Dil Me Dard Hai Aankho Me Bekaraari Hai, Hame Lagi Hai Ishq Ki Ajeeb Bimaari Hai.

Tujhase Ishq Karke Shayari

पता नहीं कैसे धोखा खाकर भी, हम जिंदा हैं, पर तुझसे इश्क करके हम बहुत शर्मिंदा हैं. Pata Nahi Kaise Dhokha Khaakar Bhi Ham Zinda Hai, Par Tujhase Ishq Karke Ham Bahut Sharminda Hai.

Itna Bhi Dard Na De Ae Zindagi / Latest Shayari

इतना भी दर्द न दे ऐ जिंदगी, इश्क़ ही किया था कोई क़त्ल तो नहीं. Itna Bhi Dard Na De Ae Zindagi, Ishq Hi Kiya Tha Koi Kayl To Nahi.

Ye Kaisa Sarur Hai Tere Ishq Ka / Best Shayari

ये कैसा सरूर है तेरे इश्क का मेरे मेहरबाँ, सँवर कर भी रहते हैं बिखरे बिखरे से हम. Ye Kaisa Sarur Hai Tere Ishq Ka Mere Meharba, Savar Kar Bhi Rahate Hai Bikhare Bikhare Se Ham.

Mere Ishq Ke Tarike Behad Juda Hai / Best Shayari

मेरे इश्क़ के तरीके बेहद जुदा हैं, औरों से मुझे तन्हा होने पर भी इश्क़ करना आता है, तुमसे ? Mere Ishq Ke Tarike Behad Juda Hai Auro Se, Mujhe Tanha Hone Par Bhi Ishq Karna Aata Hai Tumase?

Teri Aankho Me Mera Intajaar Hai / Best Shayari

तेरी आँखों में मेरा इंतज़ार है तोह जता दो मुझे, अगर तुम्हे भी इश्क़ है तो खुलके बता दो मुझे. Teri Aankho Me Mera Intajaar Hai Toh Jata Do Mujhe, Agar Tumhe Bhi Ishq Hai To Khulke Bata Do Mujhe.

Hai Ishq To Asar Bhi Hoga

है इश्क तो फिर असर भी होगा, जितना है इधर , उधर भी होगा. Hai Ishq To Asar Bhi Hoga, Jitna Hai Idhar, Udhar Bhi Hoga.

Hame To Pyaar Ke DO Lafz Bhi Naseeb Nahi

हमें तो प्यार के दो लफ्ज भी नसीब नहीं, और बदनाम ऐसे हैं जैसे इश्क के बादशाह थे हम. Hame To Pyaar Ke DO Lafz Bhi Naseeb Nahi, Aur Badnaam Aise Hai Jaise Ishq Ke Baadshaah The Ham.

Katra Katra Aag Ban Ke

कतरा कतरा आग बन के, जला रही है यादे तेरी, बरस के इश्क तू भी, दिल की लगी बुझा. Katra Katra Aag Ban Ke, Jala Rahi Hai Yaade Teri, Baras Ke Ishq Tu Bhi, Dil Ki Lagi Aag Bujha.  

« Older posts

© 2021 Today Shayari — Powered by WordPress

Theme by Anders NorenUp ↑